March 12, 2017

विधानसभा चुनाव—2017 आंकलन


  1. पंजाब को बीजेपी जानबूझकर हारी है। इसके उसे एक फायदा मिला अकाली से मुक्ति का रास्ता साफ हो गया। 
  2. मनोज सिन्हा हो सकते है यूपी के अगले मुख्यमंत्री।
  3. मणिपुर और गोवा में अन्य पार्टियों के प्रत्याशी बनावायेंगे मुख्यमंत्री। दोनों जगह बीजेपी और कांग्रेस में कड़ी टक्कर।
  4. यह क्षेत्रीय राजनीति के अवसान का दौर है। राष्ट्रीय राजनीति के पुर्नआगमन का दौर। 
  5. देश का मिज़ाज सभी राजनीतिक दलों को समझने की जरूरत है। सभी मित्रों को उत्तरप्रदेश और उत्तराखंड में भाजपा की ऐतिहासिक जीत की बधाई। बाकी पार्टियां सबक लें।
  6. देवबंद से मुस्लिम बाहुल्य इलाके से बीजेपी जीत गई है। इसे ध्रुवीकरण नहीं कहेंगे। भारतीय मुस्लिम भी बीजेपी में विश्वास करने लगा है।
  7. इतना बुरा होने के बाद कांग्रेस को अब संगठन के लेवल पर पूर्नविचार की आवश्यकता है। 
  8. जो भी लोग दूसरी पार्टियों से भाजपा में आये थे, उन्होंने खुद को साबित किया। लगभग सभी आगे चल रहे हैं। 
  9. मोदी और बीजेपी विरोध के पर्टियों का गठजोड़ जनता को रास नहीं आ रहा। 
  10. चुनाव नतीजे बता रहे हैं कि पंजाब को छोड़कर कहीं भी मजबूत विपक्ष नहीं दिख रहा। ऐसा होना लोकतंत्र के लिए घातक है।
  11. नोटबंदी को जिस तरह से अमीरों के खिलाफ प्रोजेक्ट किया गया। वह काम कर गया। ​बीजेपी गरीबों की पार्टी भी बन गयी। उसका फायदा मिला यूपी में बीजेपी को।
  12. वोट बदलाव के लिए हुआ। नोटबंदी का समर्थन किया जनता ने। प्रधानमंत्री का स्वयं उत्तरप्रदेश के गलियों की धूल छानना, जनता को भा गया। 
  13. बहुजन समाज पार्टी अब खात्मे के दौर में आने वाले पांच सालों के बाद वह भी नहीं मिलेगा। बहुजन समाज पार्टी में अमूलचूल परिवर्तन की आवश्यकता है। 
  14. छद्म धर्मनिरपेक्षता, यादववाद, दलितवाद को जनता नकारने लगी है। इसे लहर नहीं कहा जा सकता, जनता परिवर्तन चाहती है, तथाकथित सोच से।

No comments:

Post a Comment